शनिवार, 21 जनवरी 2012

अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला -२०११

प्रस्तुत हैं --अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला -२०११ की कुछ और रंग बिरंगी झलकियाँ --क्योंकि हमें तो रंगों से प्यार है ।
और आपको !



















































8 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुन्दर। रंग ही तो जीवन की ऊर्जा हैं। शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. निर्मला जी , वापसी पर आपका स्वागत है । आशा है अब आप ठीक होंगी ।

      हटाएं
  2. चित्र,उनकी कलाकारी और मेले की सभी तस्वीरें आकर्षक हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  3. कमाल के चित्र...बहुत सुन्दर...

    नीरज

    उत्तर देंहटाएं
  4. डॉ साहब इन तस्वीरों में रंगों की छटा क्या बरात देखते ही बनती है हर मंडप को आपने साकार किया है .

    उत्तर देंहटाएं
  5. भाई साहब भाई दराल साहब हमें रंगों और रंगीनियों दोनों से प्यार है .आपके मनोहारी छवि से भी कमरे की आँख बिखेरी आभा से भी .प्रगति मैदान के चल तुझे सैर करादूं .....क्या बात है इन चित्रों की मनोरम सजीव झांकियों की मंडप दर मंडप .

    उत्तर देंहटाएं