मंगलवार, 7 दिसंबर 2010

कुछ अप्रकाशित तस्वीरें , जिन्हें देखकर मन की उदासी दूर हो जाए --

विपरीत परिस्थितियों में मूढ़ ठीक करने के लिए तस्वीरों से ज्यादा बेहतर भला क्या हो सकता है । तस्वीरें भी यदि प्रकृति की हों तो क्या कहने ।

प्रस्तुत हैं मेरी पसंद की अप्रकाशित तस्वीरें , पिछली कनाडा यात्रा से ।

शाम के धुंधलके में झील का नज़ारा ।




नदी के ऊपर यह प्लेटफार्म ।


एक और शाम ।

नदिया के प़ार ।



जंगल में ।



पूर्ण शांति ।

जिस गाँव की सड़कें ऐसी हों , वहां जिंदगी कैसी होगी !



यहाँ ड्राइव करने का मज़ा ही कुछ और है ।




पंछी की परवाज़ ।



नीले आसमान पर सफ़ेद बादलों की छटा ही निराली है ।


सूरज झाँकने की कोशिश करता हुआ ।

एक प्राकृतिक सौन्दर्य ।


एक फ्रेंच स्टाइल का मकान ।

11 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुन्दर चित्रावली है।
    आभार

    उत्तर देंहटाएं
  2. अरे वाह सभी चित्र बहुत सुंदर ..... थैंक्स

    उत्तर देंहटाएं
  3. अद्भुत चित्र..जिनती बार देखो नए लगते हैं...आप तो कमाल के फोटोग्राफर हैं...बधाई स्वीकार करें...


    नीरज

    उत्तर देंहटाएं
  4. अति सुंदर चित्र, धन्यवाद
    आप का ई मेल ओर फ़ोन ना० मेरे पास नही कृप्या मुझे दोनो मेल मे भेज दे आप से फ़ोन पर बात करनी हे , फ़िर से धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  5. प्रकृति का सान्निध्य ऐसा है,मानो मां की गोद में बच्चा!

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत सुंदर|
    घुघूती बासूती

    उत्तर देंहटाएं
  7. sundar tasverein .. shukriya share karne ke liye..

    mere blog par bhi sawagat hai..
    Lyrics Mantra
    thankyou

    उत्तर देंहटाएं
  8. Wah ji wah....kia tasveer hai...dil khush hua...
    Suraj vala chitar bahut sundar hai .
    bariksh ne oda
    patoon ka gunghat
    suraj jhateean mare...

    उत्तर देंहटाएं
  9. बहुत सुंदर चित्र..नव वर्ष की बधाई...

    उत्तर देंहटाएं
  10. डा. सा :
    घर बैठे कनाडा की सैर करवाने तथा आकर्षक चित्र -झांकी दिखने के लिए धन्यवाद.

    उत्तर देंहटाएं