गुरुवार, 15 जुलाई 2010

अंडमान निकोबार द्वीप समूह ----

प्रस्तुत हैं , पोर्ट ब्लेयर --अंडमान निकोबार द्वीप समूह की २००६ की यात्रा के कुछ दृश्य ।


रौस आईलेंड : किनारे पर --



रौस आईलेंड में पुरानी गिरिजाघर --एक खँडहर




रौस आईलेंड के पिछवाड़े --समुद्र



रौस आईलेंड



एक म्यूजियम



एक म्यूजियम --पोर्ट ब्लेयर में


रिफ्लेक्शन



काला पानी --सचमुच काला

छई छप्पा छई --



अकेले की बीच

14 टिप्‍पणियां:

  1. सुंदर जीवंत चित्र हैं भाई साहब

    आनंद आ गया देख कर

    वैसे भी सुंदरवन से लेकर पुद्दुचेरी तक सभी बीच का पानी काला है।

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत सुंदर लगे सभी चित्र, जाने का विचार कई बार बना लेकिन बच्चो की छुट्टिया यहां अगस्त सितम्बर मै होने के कारण नही जा सकते.. अ्ब देखेगे क्योकि बच्चे युनिव्र्स्टि´मै जयेगे अगले साल. धन्यवाद इस सभी चित्रो के लिये

    उत्तर देंहटाएं
  3. इस से सुन्दर स्वर्ग भी क्या होगा। शानदार पोस्ट। धन्यवाद।

    उत्तर देंहटाएं
  4. बेहतरीन फोट...दिलकश पोस्ट...
    नीरज

    उत्तर देंहटाएं
  5. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत अच्छा लगा अंडमान को चित्रों में देखकर. मैं तो रोज ममा-पापा के साथ इस काला-पानी में घूमती हूँ.

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत ही सुंदर चित्र हैं....
    मज़ा आ गया देख कर।
    डॉ. साहिब...आप तो घर बैठे ही अंडमान की सैर करवा दी।

    उत्तर देंहटाएं
  8. अच्छा है कि हम सुनामी से पहले की कुछ तस्वीरे देख पा रहे हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  9. राधारमण जी , ये तस्वीरें २००६ की हैं । यानि सुनामी के बाद की । तब तक काफी सफाई हो चुकी थी ।

    उत्तर देंहटाएं
  10. अंग्रेज चले गए..अब तो अंडमान को काला-पानी से बक्श दीजिये...खूबसूरत चित्र..

    उत्तर देंहटाएं
  11. बस ..मन हो रहा है अगली छुट्टियों में घूम ही आयें ।

    उत्तर देंहटाएं
  12. wonderful pictures....I have seen calm & beautiful island through through these pictures.

    उत्तर देंहटाएं