मंगलवार, 24 सितंबर 2013

अवध की एक शाम ---


अवध की एक शाम और घिर आये काले काले बदरा !








































9 टिप्‍पणियां:

  1. कमाल की फोटोग्राफी है सर। वाह! आनंद आ गया।

    उत्तर देंहटाएं
  2. लाजवाब ! फोटूग्राफर श्री दराल साहेब ....:P

    उत्तर देंहटाएं
  3. सौन्दर्यप्रियता से भरी फोटोग्राफी..

    उत्तर देंहटाएं