शुक्रवार, 15 मार्च 2013

फोटोग्राफी के शौकीनों को बस बहाना चाहिए ---


आज फिर फोटोग्राफी का मूड बना है।  



अस्पताल के द्वार से बाहर का दृश्य।





अस्पताल प्रांगन।






 बसंत का प्रभाव यहाँ भी है।





स्वामी तो नहीं लेकिन जिम्मेदारी तो है।





हैप्पी आवर के दौरान।




4 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुन्दर चित्रण, नित के दृश्यों का।

    उत्तर देंहटाएं
  2. कमाल है, हप्प्प्प्पी ऑवर के दौरान भी सवा नैनोमीटर की मुस्कान! देढ़ इंच वाली कब देखने को मिलेगी सर?

    उत्तर देंहटाएं